fbpx

तुलसी के पत्तो से चेहरे और बालों के लिए हैं कमाल के फायदे! जानिए कैसे

क्या आप जानतें हैं चेहरे और बालों के लिए भी इस के फायदे होते हैं। जबकि हम अब तक केवल इस के स्वास्थ्य लाभ के बारे में ही जानते थे। लेकिन तुलसी एक ऐसा गुणकारी पौधा है जिसका उपयोग सौंर्दय प्रसाधन के लिए भी किया जा सकता है। आप अपनी त्व चा और बालों की सुन्दरता के लिए इस का उपयोग कर सकते हैं। इस में मौजदू औषधीय गुण त्वथचा में मौजूद संक्रमण को दूर करने और बालों को बढ़ाने उन्हें मजबूत करने जैसे लाभ प्रदान करते हैं।

आज इस आर्टिकल में आप चेहरे और बालों के लिए तुलसी के फायदे और उपयोग संबंधी जानकारी प्राप्त करेगें।

आइए चेहरे और बालों के लिए तुलसी के फायदे को विस्तार से समझें।

चेहरे के लिए फायदे

हम सभी जानते हैं कि तुलसी एक औषधीय जड़ी बूटी के रूप में हमारे स्वारस्य्प् के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है। लेकिन त्वचा के लिए इस के फायदे कई समस्याओं को दूर करने में होते हैं। औषधीय गुणों के कारण इस को हर्बल त्वरचा देखभाल उत्पावदों में उपयोग किये जाने वाले प्रमुख घटकों में से एक है। त्वचा के लिए इस के फायदे त्वयचा को स्वेस्थं रखने, स्किन संक्रमण को दूर करने, चेहरे के काले निशान और धब्बोंत को हटाने, त्वचा को चमकदार बनाने आदि के लिए होते हैं।

आइए जाने त्वचा के लिए तुलसी के फायदे क्या् हैं।

तुलसी फेस पैक फॉर पिम्पल्स

तुलसी के पत्ते त्वपचा में मौजूद विषाक्त पदार्थों को दूर करने और रक्त् को शुद्ध करने में सहायक होते हैं। इस की पत्तियों में जीवाणुरोधी और एंटीफंगल गुण होते हैं जो त्वओचा संक्रमण को दूर करने में प्रभावी होते हैं। इसी तरह से आप तुलसी के फायदे मुंहासों का उपचार करने के लिए प्राप्तक कर सकते हैं। क्योंकि तुलसी फेस पैक मुंहासों को ठीक करने का सबसे अच्छाे और प्रभावी तरीका होता है। इस फेस पैक के रूप में आप तुलसी के पत्तोंप का पेस्टत और चंदन पाउडर का उपयोग कर सकते हैं। इस मिश्रण को आप अपने चेहरे पर लगभग 20 मिनिट के लिए लगाएं और फिर ठंडे पानी से चेहरे को साफ कर लें।

इसके अलावा तुलसी के पत्तोंर की चाय भी मुंहासों को दूर करने में प्रभावी हो सकती है। इस तरह से इस फेस पैक का उपयोग कर आप त्वणचा के धब्बोंप और मुंहासों से छुटकारा पा सकते हैं।

तुलसी का उपयोग संक्रमण से बचाए

आप अपनी त्वचा संबंधी संक्रमण को दूर करने के लिए तुलसी का उपयोग किया जा सकता है। इस में एंटीबायोटिक गुण होते हैं जो संक्रमण के उपचार में अहम भूमिका निभाते हैं। इस के पत्तों का इस्ते्माल करने पर यह एन्थे्ारसिस और ई कोलाई जैसे बैक्टी रिया के विकास को रोकते हैं। जो त्वेचा संक्रमण का कारण बनते हैं। त्वसचा संक्रमण का उपचार करने के लिए आपको यहां बताई गई विधि का उपयोग करना चाहिए।

250 ग्राम तुलसी के पत्तों को पीस लें और इसे 250 मिली ग्राम तिल के तेल (sesame oil) के साथ मिलाकर पकाएं। फिर इस मिश्रण को छन्नीक से छान लें और फिर इस तेल को त्वरचा संक्रमण के ऊपर लगाएं। यह खुजली जैसे संक्रमण का इलाज कर सकता है। इसके अलावा आप इस के पत्तोंe के पेस्टि के साथ नींबू के रस को मिलाकर भी उपयोग कर सकते हैं। यह मिश्रण दाद जैसी त्वपचा समस्याओं को दूर करने में प्रभावी होता है। इस में रोगाणुरोधी और एंटिफंगल गुण भी होते हैं, जो कई अन्य त्वचा संक्रमण को रोकने में मदद करते हैं। कई आयुर्वेदिक दवाएं भी हैं जिनमें तुलसी औषधीय रूप में शामिल है दाद के खिलाफ प्रभावी है।

तुलसी चेहरे के लिए
तुलसी चेहरे के लिए

चेहरे को गोरा बनाए

आप अपने चेहरे को सुंदर बनाने के लिए कई प्रकार के सौंदर्य उत्पाीदों का उपयोग करते हैं। लेकिन चेहरे के लिए तुलसी के फायदे भी होते हैं। आप चेहरे पर इस का गाढ़ा पेस्ट उपयोग कर सकते हैं जो आपकी त्वदचा को गोरा बनाने में सहायक होता है।

इसके लिए आप तुलसी की कुछ पत्तियां लें और इसे दूध के साथ पीसकर एक पेस्टद तैयार करें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनिट के लिए छोड़ दें। इसके बाद आप अपने चेहरे को सामान्यी पानी से धो लें। इसके बाद आप अपने चहरे में मॉइस्चकराइजिंग क्रीम का उपयोग करें। नियमित रूप से उपयोग करने पर यह 2-3 माह में ही आपको लाभ दिला सकता है।

ये भी पढ़े-

चेहरे के दाग धब्बे दूर करे

चेहरे की सुंदरता कम करने में प्रमुख योगदान त्वsचा में मौजूद दाग और धब्बों का होता है। लेकिन आप चेहरे के दाग धब्बों को दूर करने के लिए भी तुलसी के फायदे प्राप्त? कर सकते हैं। इसके लिए आप बेसन और तुलसी फेस पैक का उपयोग कर सकते हैं।

बेसन और तुलसी फेस पैक बनाना बहुत ही आसान है। इसके लिए आप तुलसी की पत्तियों का पेस्टक बनाएं और इसमें थोड़ा सा बेसन मिला लें। अब इस मिश्रण को पतला करने के लिए आवश्यऔकतानुसार पानी मिलकर पतला कर लें। फिर इस मिश्रण अपने पूरे चेहरे पर लगाएं।

यह फेस पैक त्वचा के दाग, धब्बों से छुटकारा पाने और एक साफ त्वचा प्राप्तइ करने के लिए सबसे लोकप्रिय उपाय है। बेसन और तुलसी के गुण मिलकर त्वचा को गोरा बनाने में सहायक होते हैं। इसके अलावा यह मिश्रण त्वतचा में मौजूद बैक्टीररिया या संक्रमण को भी प्रभावी रूप से दूर कर सकता है।

तुलसी का पत्ता पीस कर चेहरे पर लगायें!
तुलसी का पत्ता पीस कर चेहरे पर लगायें!

स्किन के छिद्रों का उपचार करे

त्वचा के दाग धब्बोंप को दूर करने के साथ ही इस के फायदे त्वचा छिद्रों को कसने में सहायक होते हैं। इसके लिए आप एग व्हाइट और इस के पत्तों का पेस्ट मिलाकर अपने चेहरे पर लगाएं। इस मिश्रण को चेहरे पर लगाने के 20 मिनिट के बाद स्क्रब करते हुए अपने चेहरे को धो लें। ऐसा करने पर यह आपके त्वहचा छिद्रों को मजबूत करने त्वचा छिद्रों में मौजूद बैक्टी्रिया को नष्ट करने में सहायक होता है। त्वचा छिद्रों में मौजूद बैक्टीरिया ही मुंहासों का प्रमुख कारण होते हैं।

बालों के लिए

त्वचा के लिए फायदेमंद होने के साथ ही तुलसी के फायदे बालों के लिए भी होते हैं। बालों को खूबसूरत बनाने के लिए इस का इस्तेमाल करना लाभकारी होता है। नियमित रूप से इस का सेवन करने और बालों में उपयोग करने पर यह बालों की अधिकांश समस्यााओं को दूर कर सकता है। तुलसी में एंटी बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं।

आइए जाने इस के फायदे बालों के लिए क्या हैं –

बालों को झड़ने से रोके

यदि आप बाल झड़ने की समस्याल से परेशान हैं तो तुलसी के पत्तों का उपयोग करें। इस के लाभ बालों को झड़ने से रोक सकते हैं। इसके लिए आप तुलसी के पत्तों का पेस्ट बनाकर अपने बालों के तेल के साथ मिलाकर लगाएं। यह मिश्रण आपके बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इस मिश्रण को अपनी उंगलियों की मदद से बालों की जड़ों में लगाएं और हल्की मालिश करें। लगभग 30 मिनिट के बाद अपने बालों को हल्के शैम्पू से धो लें। यह मिश्रण आपके बालों को फिर से जीवंत करता है और सिर को ठंडक दिलाता है। इस तरह से आप अपने सिर में रक्त। परिसंचरण को भी बढ़ावा दे सकते हैं।

डैंड्रफ दूर करे

नियमित रूप से तुलसी के तेल को अपने रोजाना के तेल में मिश्रित कर इसका उपयोग बालों में करने पर डैंड्रफ संबंधी समस्यााओं से बच सकते हैं। क्योंकि इस का उपयोग डैंड्रफ दूर करने में सहायक होता है। अपने उपयोग करने वाले तेल में इस के तेल की कुछ मात्रा मिलाएं और अपने सिर की मालिश करें। ऐसा करने से आपके सिर की ऊपरी त्वचा में रक्त परिसंचरण को बढ़ावा मिलता है और रूसी की खुजली को भी शांत करने में मदद मिलती है। अध्ययनों से पता चलता है इस के औषधीय गुण 4 प्रकार के कवक उपभेदों को नियंत्रित करने में प्रभावी होता है जो मुख्य रूप से डैंड्रफ का कारण होते हैं। इसके अलावा नियमित रूप से तुलसी का उपयोग करने से आपके बाल नरम, चमकदार भी बनते हैं।

तुलसी और नींबू का फेसपैक

चेहरे से कील, मुंहासे और गंदगी को हटाने के लिए तुलसी के पत्तों को पीस कर पेस्ट बना लें। फिर इसमें नींबू की कुछ बूंदें मिलाएं। अब इस पेस्ट को 15 मिनट के तक चेहरे पर लगाएं। फिर इसे ठंडे पानी से धो लें।

तुलसी और दही

दही में तुलसी पाउडर मिला कर पेस्ट बना लें। फिर इसे चेहरे पर लगा लें और सूखने के बाद धो लें।

तुलसी और मुल्तानी मिट्टी

इस पैक को तैयार करने के लिए कटोरी तुलसी पाउडर, चंदन पाउडर, मुल्तानी मिटटी, जैतून का तेल और गुलाबजल डाल कर पेस्ट तैयार कर लें। अब इसे चेहरे पर 15-20 मिनट तक लगा कर बाद में ठंडे पानी से धोएं। इससे आपके चेहरे की थकावट दूर होगी और आपको फ्रैशनेस महसूस होगी।

ये भी पढ़ें : –

हम चाहते हैं कि हर भारतीय अंग्रेजी दवाओं की बजाय घरेलु नुस्खों और आयुर्वेद को ज्यादा अपनाये.

अगर आपको इससे कोई फायदा लगे तो इसे शेयर करके औरों को भी बताएं.

हमें सहयोग देने के लिए हमारे फेसबुक (Facebook) पेज – Khabar Nazar पर Like ज़रूर करें!

आर्डर करने के लिए लिंक पर जायें – http://whatslink.co/PilesCure

Piles Care Kit – घर बैठे कूरियर से भारत में कहीं भी किट पाने के लिए इस लिंक पर क्लिक कीजिये – http://whatslink.co/PilesCure

Satya Sharma

मैं अंग्रेजी दवाओं के मुकाबले घरेलु नुस्खों, आयुर्वेद और देसी इलाज को ज्यादा महत्चपूर्ण और कारगर मानती हूँ. सही खान-पान से और नियमित दिनचर्या से वैसे ही बीमारियों से बचा जा सकता है. अंग्रेजी दवाओं के दुष्प्रभाव से बचाने और भारतीय चिकित्सा पद्दति को बढ़ावा देने के लिए मेरी वेबसाइट से जुड़िये और अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बताइए.

Leave a Reply