दांतों में पायरिया, मुँह की बदबू, दर्द को खत्म करे इस आसान घरेलु उपाय से

सुन्दर चमचमाते दांत किसी की भी मुस्कराहट में जहाँ चार चाँद लगा सकते हैं, वहीँ ख़राब दांतों और मसूड़े न सिर्फ हँसी फीकी करते हैं बल्कि पूरी पर्सनालिटी का भी सत्यानास कर देते हैं. इसलिए इनकी देखभाल बहोत ज़रूरी है और आज इसी के बारे में आपको बतायेंगे.

लेकिन सबसे पहले हमारे अपडेट नियमित पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज – Khabar Nazar को ज़रूर Like करें!

आइये जानते हैं दांतों में पायरिया होने के कारण, लक्षण और इससे बचने और ठीक करने के उपाय : –

क्या है पायरिया?

दांतों को मजबूत बनाये रखने के लिए मसूड़े इन पर पकड़ बनाये रखते हैं, लेकिन पायरिया होने पर यह मसूड़ों को धीरे धीरे खाना शुरू कर देता है और वहां बैक्टीरिया की परत चढ़ाता जाता है जिससे दांत सड़ने लगते हैं और अंत में जड़ से निकल कर गिर जाते हैं.

दांतों में पायरिया के कारण : –

दांतों में पायरिया लगने के ज्यादा कारण तो साफ़ सफाई की कमी है, फिर भी इसके मुख्य कारण हैं :-

  • ठीक से दांतों को सुबह शाम ब्रश से साफ़ न करने पर बैक्टीरिया की परत जमना.
  • दांतों में चिपकने वाला खाना खाने से जो कि बाद में सड़ने लगता है और कीटाणु पैदा करता है.
  • लीवर का ठीक से काम न करने पर भी पायरिया होने की दिक्कत हो सकती है.
  • किसी अन्य बीमारी के लिए खायी गयी दवाई की वजह से जैसे कि पिम्पल्स और मुहांसों की दवाएं.
  • पानी की कमी से.
  • पेट ख़राब रहने से.
  • कब्ज़ की समस्या होने से.
  • मांस, गुटका, पान, तम्बाकू और जर्दा इत्यादि चबाने से.

ये भी पढ़े –

दांतों में पायरिया के लक्षण : –

दांतों में लगे पायरिया को इन लक्षणों से आसानी से पहचाना जा सकता है : –

  • दांतों की जड़ों का ढीला होना.
  • मसूड़ों का धीरे धीरे ख़त्म होते जाना.
  • बैक्टीरिया की पत्थर जैसी परत दांतों की जड़ों में जमना.
  • मसूड़ों से खून आना.
  • मुँह से बदबू आना.

पायरिया से बचने के आसान उपाय : –

पायरिया होने के बाद उसका इलाज करवाने की बजाय पहले ही एहतियात बरतना ज्यादा समझदारी है. इसके लिए इन बातों का धयान रखिये : –

  • हर रोज़ सुबह उठकर और रात सोने से पहले यानि दिन में 2 बार दांत ज़रूर साफ़ करें.
  • हर बार कुछ भी खाने के बाद अच्छे से कुल्ला करें और ऊँगली से सारे दांत साफ़ करें.
  • दिन में खूब सारा पानी पियें कम से कम 4 लीटर पानी ज़रूर पियें.
  • कैल्शियम की बराबर मात्रा संतुलित आहार के मुताबिक ज़रूर खाते रहें.
  • दांतों में चिपकने वाले खाने जैसे फ़ास्ट फ़ूड, बर्गर आदि का सेवन जितना कम हो सकें उतना करें.

ये भी पढ़े –

पायरिया हो गया है तो इससे छुटकारा पाने के उपाय : –

यदि आपने पहले से ध्यान नहीं रखा और पायरिया ने आपके दांतों को जकड लिया है तो भी यहाँ बताये गये उपाय आपके काम आयेंगे : –

  • नीम की एक छोटी सी टहनी तोड़ लें जिसे दातुन कहते हैं. इसे एक तरफ से दांतों से खूब चबा कर ब्रश जैसा बना लें और दांतों को इससे रोजाना साफ़ करें. इससे बैक्टीरिया, मुह की बदबू और पायरिया सब साफ़ हो जायेंगे.
  • सरसों के तेल में नमक मिला कर ऊँगली से अच्छे से दांतों और मसूड़ों की सफाई करनी चाहिए.
  • शौच के समय दांतों को जोर से दबा कर भीच कर रखना चाहिए. इससे दांत लम्बे समय तक साथ नहीं छोड़ते.
  • नीम के पत्तों की राख, कपूर और थोड़ी सी कोयले की राख मिला कर रात में दांतों पर रगड़ कर सोयें और सुबह उठ कर धो लें. इससे भी पायरिया ख़त्म हो पाएगा.
  • प्याज़ के एक छोटे टुकड़े को तवे पर गरम कर के 15 मिनट तक दांतों के बीच दबा कर रखें. एक दिन में 3 बार 1 हफ्ते तक करने से पायरिया ठीक हो जाएगा.
  • नमक और हल्दी से भी इसका इलाज किया जा सकता है. थोड़ी हल्दी में नमक और जरा सा सरसों का तेल मिला कर दांतों और मसूड़ों पर रगड़ लें. 20 मिनट तक इसकी लार को थूकते रहे और फिर ठन्डे पानी से धो लें. 1 हफ्ते में पायरिया हट जाएगा.

 

ये कुछ घरेलु नुस्खे हैं जिनसे दांतों की पूरी देखभाल की जा सकती है. इन्हें अपनाएं और स्वस्थ मसूड़े और दांत पाएं.

हमारे अपडेट नियमित पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज – Khabar Nazar को ज़रूर Like करें!

 

धातु रोग, मर्दाना कमजोरी, देर तक नहीं टिकना, 1 मिंट में निकल जाने की समस्या, शुक्राणु के पतलेपन की आयुर्वेदिक उपचार डॉ नुस्खे हॉर्स पावर किट ऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें https://waapp.me/wa/tSQUZRpC या whats-app 742-885-8589 करें!

Satya Sharma

मैं अंग्रेजी दवाओं के मुकाबले घरेलु नुस्खों, आयुर्वेद और देसी इलाज को ज्यादा महत्चपूर्ण और कारगर मानती हूँ. सही खान-पान से और नियमित दिनचर्या से वैसे ही बीमारियों से बचा जा सकता है. अंग्रेजी दवाओं के दुष्प्रभाव से बचाने और भारतीय चिकित्सा पद्दति को बढ़ावा देने के लिए मेरी वेबसाइट से जुड़िये और अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बताइए.

Leave a Reply