fbpx

चुटकी भर नमक का बस ऐसे करें इस्‍तेमाल, घर में धन और खुशियों की होगी बरसात

चुटकी भर नमक के ये फायदे भी हो सकते हैं, आप जानकर वाकई में हैरान रह जाएंगे और इसके लिए आपकोबहुत कुछ करने की जरूरत भी नहीं है। नमक ऐसी चीज है जो हर किसी के किचन में होती है, मगर यह सिर्फ खाने में डालने के ही काम नहीं आती। इसके कई और फायदे भी हैं, जो हमारे पूरे घर की सुखसमृद्धि से जुड़े हैं और हां इसके लिए आपको नमक खानेकी नहीं बल्कि उसका कुछ इस तरह इस्तेमाल करने की जरूरत है। अब हो सकता है आपको ये अंधविश्वास की चीजें लगें, मगर ज्योतिष और वास्तु शास्त्र में घर की सुखसमद्धि व अन्य कई समस्याओं केलिए नमक से जुड़े ये उपाय बताए गए हैं इन से आपको जरुर लाभ मिलेगा.

दरिद्रता दूर करने हेतु :

सप्ताह में एक बार गुरुवार को छोड़कर पोंछा लगाते समय पानी में थोड़ा साबुत खड़ानमक (समुद्री नमक) मिला लेना चाहिए। इस उपाय से भी घर की नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती है।

साफ़ पानी से पोछा लगाये हो सके तो बार बार पानी बदलते रहे क्योकि जितना साफ़ आपका घर होगा उतनी ही नकारात्मक उर्जा घर से भर जायगी और आप लोगो को पता भी होगा लक्ष्मी माता को भी सफाई जायदा पसंद है तो वो आप लोगो पर मेहरबान भी होगी ही.

नमक का गिरना अच्छा नहीं माना जाता। बुल्गारिया, यूक्रेन और रोमानिया जैसे देशों में इसे दुर्भाग्य और विवाद का सूचक समझा जाता है।

भारत में इसका गिरना अशुभ माना गया है। चंद्रमा और शुक्र दोनों कमजोर हो जाते हैं।  भोजन पकाते समय भोजन को चखे नहीं।

उससे भोजन की पवित्रता नष्ट होती है और दरिद्रता आती है। नमक कम हो जाएगा तो बाद में डाल दिया जाएगा। भगवान को भोजन नैवेद्य लगाने के बाद ही भोजन को चखे।

नमक को सीधे सीधे किसी व्यक्ति के हाथ में मत दीजिए। नमक का पैकेट भी देने से बचना चाहिए। ऐसा मानते हैं कि इससे व्यक्ति के संबंध खराब होते हैं।

ध्यान रखें भोजन पकाते समय भोजन को चखे नहीं। उससे भोजन की पवित्रता नष्ट होती है और दरिद्रता आती है। नमक कम हो जाएगा तो बाद में डाल दिया जाएगा।

भगवान को भोजन नैवेद्य लगाने के बाद ही भोजन को चखे। धन प्राप्ति और बरकत हेतु : नमक को कांच के पात्र में रखें और उसमें चार-पांच लोंग डाल दें।

इससे धन की आवक शुरू होनेलगेगी और घर में बरकत भी बनी रहती है। इससे एक ओर जहां नमक में सुगंध बनी रहेगी वहीं इस उपाय से कभी धन की कमी नहीं होगी।

ये भी पढ़े –एक गिलास गरम पानी में मिलाएं दो चुटकी ये औषधि, 5 बीमारियां दूर हो जाएंगी!

पैर के अंगूठे में काला धागा बांधने से ये बीमारी जड़ से ख़त्म हो जाती है, महिलाओं के लिए ये वरदान है

बाथरूम और टॉयलेट दोष से मुक्ति :

नमक हर तरह की गंदगी को हटाने वाला रसायन है. एक कांच की कटोरी में खड़ानमक (समुद्री नमक) भरें और इस कटोरी को बाथरूम में रखें।

इस उपाय से भी नकारात्मक ऊर्जा दूर हो सकती… टॉयलेट में कांच केबाऊल में क्रिस्टल साल्ट (दरदरा नमक) भर कर रखें, 15 दिन बाद बदल दें, पहला टाॅॅयलेट के सिंक में डाल दें।

अगर किसी कारण टॉयलेट उत्तर-पूर्व मेंहो तो इसके दरवाजे पर रोअरिंग लायन का फोटो पेस्ट कर दें।

वास्तुदोष मिटाएं नमक से :

मिला जुला वास्तुदोष हो तो जिसे आप बदल नहीं सकते। मन में खिन्नता, भय, चिंता होने से,दोनों हाथों में साबुत नमक भर कर कुछ देर रखे रहें, फिर वॉशबेसिन में डालकर पानी से बहा दें।

नमक इधर उधर न फेंके।इस से भी वास्तु दोष को मिटा देता है.

नजर उतारने के लिए :

यदि आपको या किसी बच्चे को किसी की नजर लग गई है तो सात बार एक चुटकी नमक उस पर सेउतारकर उसे बहते पानी में बहा दें।

नल खोलें और उसे नल के बहते पानी में डाल दें। इससे नजर दोष दूर हो जाएगा.

व्यक्तिगतबाधा के लिए एक मुट्ठी पिसा हुआ नमक लेकर शाम को अपने सिर के ऊपर से तीन बार उतार लें और उसे दरवाजे के बाहर फेंकें। ऐसा तीन दिन लगातार करें।

यदि आराम न मिले तो नमक को सिर के ऊपर वार कर शौचालय में डालकर फ्लश चला दें। निश्चित रूप से लाभ मिलेगा।

शनि के दुष्प्रभाव से बचें :

करते समय आपको दाल या सब्जी आदि में नमक कम लगे तो उपर से नमक न डालें।

ऐसे में कालानमक तथा मिर्च कम होने पर काली मिर्च का प्रयोग करें। यदि आप ऐसे नहीं करेंगे तो इससे शनि का दुष्प्रभाव शुरू हो जाएगा।

कुंडली में चंद्र और मंगल कमजोर है तो :

अगर कुंडली में चंद्र कमजोर है तो समुद्री या सामान्य नमक का भोजन मेंइस्तेमाल न करें बल्कि सेंधा नमक का इस्तेमाल करें।

इससे आप रक्तचाप की समस्या से बचे रहेंगे और यही नमक अच्छा भी रहता है.

ये भी पढ़े –यदि इस इंसान से आपको सिर्फ़ 1 रुपया मिल जाए तो हमेशा नोटों से भरा रहेगा आपका पर्स

घुटनो के दर्द से है परेशान तो इन बातो का रखे खास ध्यान

मन की बैचेनी मिटाएं :

यदि आपका मन बहुत अशांत रहता है। विचार चलते रहते हैं किसी प्रकार की चिंता से ग्रस्त रह रहे हैं तो इससे आपका स्वास्थ्य गिरता जाएगा।

नमक मिले हुए जल से स्नान करने से शरीर तो शुद्ध होगा ही साथ ही मन की बैचेनी भीशांत हो जाएगी।इसलिए इसे जरुर अपना कर देखे.

गृह क्लेश से बचने हेतु :

यदि पति और पत्नी में किसी भी बात को लेकर अनबन है या गृहक्लेश है या किसी भी प्रकार कीमानसिक अशांति है तो सेंधा या खड़े नमक का एक टुकड़ा शयनकक्ष के एक कोने में रखें.

इससे नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी। इस टुकड़े को महीने भर के बाद बदल दें और दूसरा नया टुुकड़ा रख दें।

रोग से मुक्ति हेतु :

सोते समय अपना सिरहाना पूर्व की ओर रखें। अपने सोने के कमरे में एक कटोरी में सेंधा नमक के कुछटुकडे रखें।

इससे आपकी सेहत ठीक रहेगी। रोग से बचने के लिए साधारण नमक का कम ही उपयोग करना चाहिए।

उसकी जगहसेंधा नमक या काले नमक का उपयोग भोजन के दौरान करना चाहिए।

अगर कोई व्यक्ति लंबी बीमारी से ग्रसित हैं तो उसकेसिरहाने कांच के एक बर्तन में नमक रखें।

एक सप्ताह बाद उस नमक को बदल कर दोबारा नमक रख दें। धीरे धीरे उस व्यक्ति कीसेहत में सुधार होने लगेगा।

विनम्र विनती :

अगर आपको यह जानकारी पसंद आई है तो हमें हमारे फेसबुक (Facebook) पेज – Khabar Nazar पर Like करना न भूलें.

साथ ही अपने दोस्तों से शेयर (Share) कर अच्छी बात को ज्यादा लोगों तक पहुंचाए.

 

आर्डर करने के लिए लिंक पर जायें – http://whatslink.co/weightloss

Weight Loose Kit – बिना जिम, भागदौड़ और डाइटिंग योग के वजन कैसे घटाया जाए जो वापस न बढे, इसकी जानकारी चाहिए!
घर बैठे कूरियर से भारत में कहीं भी किट पाने के लिए इस लिंक पर क्लिक कीजिये – http://whatslink.co/weightloss

Leave a Reply