fbpx

सफ़ेद प्याज दूर कर देगा मर्दों की हर कमजोरी – पुरुष ज़रूर पढ़ें!

प्याज की एक नस्ल होती है सफ़ेद प्याज, जो लाल प्याज से अलग होती है. सलाद में खाया जाने वाला प्याज़ हमारे स्वस्थ के बहुत लाभकारी होता है। प्याज़ सब्जी, सलाद, सैंडविच, चायनीज डिसेज आदि सभी में इस्तेमाल होता है जिससे इसका स्वाद दोगुना हो जाए।

बहुत से लोग प्याज़ का सेवन नहीं करते क्योंकि इसको खाने के बाद मुँह से दुर्गंध आती है। पर वे लोग यह नहीं जानते की इसके फायदे कितने है। प्याज़ को आयुर्वेद में एक अच्छी औषधि के रूप में भी जाना जाता है।

प्याज़ खाने को लजीज बनाने के साथ साथ बहुत से रोगों को भी ठीक करता है। प्याज़ में कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट गुण होते है जो मानव शरीर में मौजूद मुक्त कणों को निष्क्रिय करने में बहुत प्रभावी होते है। प्याज़ के पौधे में हरी रंग की पत्तियां होती है, वो भी लाभदायक मानी जाती है। प्य

ज भी कई प्रकार के होते हैं। आज के लेख में हम आपको इन्हीं में से एक प्रकार के प्याज के बारे में बताने जा रहे है।

आज हम आपको White Onion खाने के फायदे और इसमें मौजूद गुण के बारे में विस्तार से बताएँगे। इसमें मौजूद मुख्य पौषक तत्व इस प्रकार है: –

  • प्रोटीन- 1.2 ग्राम
  • कार्बोहाइड्रेट -11.1 मि.ग्रा
  • विटामिन -15 मि.ग्रा
  • वसा- 0.1 ग्राम
  • कैल्शियम- 46.9 मिग्रा
  • खनिज- 0.4 ग्राम
  • फॉस्फोरस- 50 मि.ग्रा
  • कैलोरी -50 मि.कै
  • फाइबर- 0.6 ग्राम
  • लौह- 0.7 मि.ग्रा
  • पानी- 86.6 ग्राम

सफेद प्याज में मौजूद इन पोषक-तत्वों की वजह से बुजुर्ग प्याज को सब्जी कम, औषधि अधिक मानते थे।

लेकिन इसके फायदे सिर्फ इतने ही नहीं बल्कि और भी है जो आपको लाभ देंगे. आइये जानते है White Onion Benefits : –

कैंसर रोकथाम के लिए:

कैंसर एक जानलेवा बीमारी है इसको रोकना बहुत ज़रुरी होता है। इसलिए प्याज़ का सेवन करें क्योंकि प्याज सल्फर में समृद्ध है, जो एक बहुत ही शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट यौगिक है जो लगातार रोकथाम या कैंसर के प्रसार को कम करने से जुड़ा रहता है।

विटामिन सी भी एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट है, जो इस प्याज में रहता है जिससे पूरे शरीर में मुक्त कणों की मौजूदगी और प्रभाव कम हो सकता है।

यौन शक्ति के लिए:

इस प्याज को खाने से शरीर की सेक्स क्षमता बढती है। शारीरिक क्षमता को बढाने के लिए पहले से ही प्याज का इस्तेमाल होता आया है।

प्याज पुरुषों के लिए सेक्स पॉवर बढाने का सबसे अच्छा टॉनिक है। वीर्यवृद्धि के लिए सफेद प्याज के रस के साथ शहद लेने पर फायदा होता है।

कोलेस्ट्रॉल के लिए:

सफ़ेद प्याज़ में मिथाइल सल्फाइड और अमीनो एसिड होता है जो कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है और इसे जमने नहीं देता है।

यह कोलेस्ट्रॉल को काबू में रखता है और हमारे हार्ट को स्वस्थ रखता है।

बालों के लिए:

बाल गिरने की समस्या से निजात पाने के लिए यह प्याज बहुत ही असरकारी है।बाल का झड़ना, बाल का टूटना और गंजेपन की समस्या से निजात दिलाता है।

कैसे उपयोग करें- प्याज़ को पीस कर उसका रस निकाल ले। अब उस रस को अपने बालों की जड़ों पर अच्छे से मालिश करें, फिर 30 से 45 मिनट्स तक लगे रहने दे फिर बालों को अच्छे हर्बल शैम्पू से धोलें।

सफ़ेद प्याज

प्याज़ के रस से मालिश करने से बाल मजबूत बनेगे और गिरना बंद हो जाते है । इसलिए नियमित रूप से प्याज़ के रस का उपयोग करें।

त्वचा के लिए:

स्वस्थ त्वचा को बनाए रखने में भी बायोटिन महत्वपूर्ण है। सफ़ेद प्याज एक सूजन-विरोधी सब्जी है, इसलिए प्याज में सक्रिय यौगिकों की मौजूदगी होती है और यह सूजन को भी कम कर सकती हैं।

यह सूजन की समस्या आमतौर पर मुँहासे वाली त्वचा की स्थिति में पैदा होती हैं। प्याज़ में एंटीसेप्टिक के गुण भी होते है जो त्वचा को बैक्टीरिया से बचाता है।

लू के लिए:

बहुत से लोगों को गर्मी में ज़्यादातर धूप में रहने से लू लग जाती है।

अगर किसी को लू लग गई है तो उसे प्याज़ का रस पीना चाहिए। आप चाहो तो धूप में निकलने से पहले अपने तलवों पर प्याज़ का रस लगा ले इससे लू नहीं लगेगी।

इसके अलावा आप एक प्याज़ को अपनी जेब में भी रख सकते है, गर्मी के समय।

गले की खराश और खांसी को करे दूर:

इस प्याज़ के रस में एक चम्मच शहद मिलाकर इसका सेवन करें।

इससे खांसी की समस्या से जल्द ही निजात मिलने में मदद मिलती है।

एंटी-माइक्रोबियल प्रभाव:

हमारे शरीर के अंदर कई सूक्ष्मजीव हैं। उनमें से कुछ नुकसान पहुंचा सकते हैं या इन्फेक्शन फैला सकते है।

इसलिए इस कच्चे प्याज़ का सेवन करे क्योंकि प्याज के अर्क और आवश्यक तेल हानिकारक सूक्ष्मजीवों जैसे बैक्टीरिया और उसके कण के विकास को कम कर सकते हैं।

रक्त शर्करा विनियमन:

प्याज का इस्तेमाल ब्लड शुगर को भी नियंत्रित करने का काम करता है। मधुमेह के मरीजों के लिए यह काफी फ़ायदेमंद होता है।

एक शोध में पाया गया की प्रतिदिन 100 ग्राम कच्चे प्याज़ खाने से रक्त शर्करा के स्तर को कम किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें :

हम चाहते हैं कि हर भारतीय अंग्रेजी दवाओं की बजाय घरेलु नुस्खों और आयुर्वेद को ज्यादा अपनाये.

अगर आपको इससे कोई फायदा लगे तो इसे शेयर करकेऔरों को भी बताएं.

हमें सहयोग देने के लिए हमारे फेसबुक (Facebook) पेज – Khabar Nazar पर Like करना ना भूले!

सुखी और संतुष्ट वैवाहिक जीवन के लिए अपनी टाइमिंग बढ़ाएं,
घर बैठे पूरे भारत में 100% आयुर्वेदिक डॉ नुस्खे हॉर्स किट की गुप्त डिलीवरी पाएं!

इस लिंक पर क्लिक करके सुरक्षित आर्डर करें!
http://whatslink.co/Horsekit

Satya Sharma

मैं अंग्रेजी दवाओं के मुकाबले घरेलु नुस्खों, आयुर्वेद और देसी इलाज को ज्यादा महत्चपूर्ण और कारगर मानती हूँ. सही खान-पान से और नियमित दिनचर्या से वैसे ही बीमारियों से बचा जा सकता है. अंग्रेजी दवाओं के दुष्प्रभाव से बचाने और भारतीय चिकित्सा पद्दति को बढ़ावा देने के लिए मेरी वेबसाइट से जुड़िये और अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बताइए.

Leave a Reply