पेट की गैस से परेशान हैं तो बस अब और नहीं! ये आजमा कर बन जाएगी बात!

आज कल बढ़ते भाग दौड़ के जीवन और हर समय बाहर का खाने से या घर में ही बना बासी खाना खाने से न केवल पैसे का नुक्सान हो रहा है बल्कि सेहत का भी भारी नुकसान हम सबको और रहा है.

सब कुछ पहले से पका-पकाया मिल जाने से हम ये तो सोच लेते हैं कि समय की बचत हो गयी, लेकिन ये बचत खुद के अपने ही शरीर पर महंगी पड़ जाती है.

पेट की गैस भी इसी प्रकार के खाने और ऐसी ही बिगड़ी हुई खान-पान की शैली का बुरा नतीजा है. खैर, ऐसा नहीं है कि पेट में गैस होना गलत है. बल्कि यह तो बिलकुल प्राकृतिक है. हरी सब्जियां खाने से पेट में गैस होना लाजमी है.

लेकिन यह समस्या तब बन जाती है जब पेट ठीक से साफ़ नहीं होता और पेट की गैस या तो निकलने में बेहद दिक्कत परेशानी होती है या फिर बेहद गन्दी बदबू आती है.

इसका कारण तो यही होता है कि गन्दगी शरीर में भरी रहती है. ये ही सडती हुई गन्दगी गैस और बदबू दोनों पैदा करती है.

आज मैं आपको इसी से छुटकारा पाने के बारे में बता रही हूँ. जानने के लिए पढ़ते रहिये –

निम्बू और सेंधा नमक

निम्बू और सेंधा नमक मिलकर पेट की गैस को बाहर निकलने में बढ़िया काम करते हैं. इसके लिए आप आधे निम्बू के रस को 200 मिली लीटर यानी कि एक छोटा पानी का गिलास में मिला कर उसमें थोडा सा सेंधा नमक मिला कर धीरे धीरे पियें. पानी गुनगुना हो तो और बढ़िया. इससे पेट की गैस आराम से निकल जाएगी.

सौंफ का चूर्ण

सिर्फ 5 ग्राम सौंफ के चूर्ण को गरम पानी के साथ फाकी ले लेने से फूले हुए पेट से तुरंत राहत मिल जाती है. ये सभी के लिए उपयोगी है. अफारे में भी ये नुस्खा बढ़िया काम करता है.

गुड और अदरक

3 ग्राम अदरक, 10 ग्राम गुड के साथ पीस कर खा लीजिये. गैस जल्द ही ऐसे ख़त्म हो जाएगी जैसे कभी थी ही नहीं. और गुड और अदरक तो आम तौर पर खाने के बाद वैसे भी खा लेनी चाहिए. इससे पाचन तंत्र भी बढिया रहता है.

हींग

हींग भी गैस से छुटकारा दिलाने के लिए उत्तम ही. खाने में हींग का इस्तेमाल करने से गैस होगी ही नहीं और पेट दुरुस्त रहेगा. लेकिन बाद में भी हींग का पानी पी लेने से गैस से तुरंत राहत मिलती है.

जायफल-सौंठ-जीरा

समान मात्रा में जायफल का चूर्ण, सौंठ का चूर्ण और जीरे का बारीक पाउडर मिला कर खाने से पहले ही फाकी से खा लें. इससे गैस पैदा ही नहीं होगी और परेशानी ख़त्म होगी.

पीपल-सेंधानामक

पीपल का चूर्ण 3 ग्राम, सेंधानामक 1 ग्राम को मिलाकर आधे गिलास लस्सी यानि छाछ के साथ पीने से भी पेट की गैस निकल जाती है.

लौंग

2-3 लौंग को पीस कर गरम पानी में में उबाल लें. फिर इसे छान कर सुबह शाम पीने से पेट का अफारा सही रहता है.

छाछ-अजवायन-कला नमक

1 छोटा गिलास छाछ यानि कि लस्सी में 2 ग्राम अजवायन पीसी हुई और 1 ग्राम पिसा हुआ काला नमक मिला कर पीने से पेट की गैस मिनटों में छू-मंतर हो जाएगी

तेजपत्ता

तेजपत्ते का पिसा हुआ चूर्ण गरम पानी सुबह शाम लेने से गैस नहीं बनती

लहसुन

पिसा हुआ लहसुन मिश्रण लगभग 1 ग्राम के चौथाई बाग़ को घी के साथ खाने से पेट की गैस बाहर निकल जाएगी.

हम चाहते हैं कि हर भारतीय अंग्रेजी दवाओं की बजाय घरेलु नुस्खों और आयुर्वेद को ज्यादा अपनाये.

अगर आपको इससे कोई फायदा लगे तो इसे शेयर करके औरों को भी बताएं.

हमें सहयोग देने के लिए हमारे Sandhya Gujral पर Like ज़रूर करें!

Satya Sharma

मैं अंग्रेजी दवाओं के मुकाबले घरेलु नुस्खों, आयुर्वेद और देसी इलाज को ज्यादा महत्चपूर्ण और कारगर मानती हूँ. सही खान-पान से और नियमित दिनचर्या से वैसे ही बीमारियों से बचा जा सकता है. अंग्रेजी दवाओं के दुष्प्रभाव से बचाने और भारतीय चिकित्सा पद्दति को बढ़ावा देने के लिए मेरी वेबसाइट से जुड़िये और अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बताइए.

Leave a Reply