नीम के ये कमाल के फायदे आपको पता नही होंगे

नीम का स्वाद कड़वा होता है, लेकिन ये जितनी कड़वी होती है, उतनी ही फायदे मंद होती है| आइये मैं आज आपको नीम के गुण और उसके लाभ से अवगत कराता हूँ, जिसे आप आसानी से घर में उपयोग कर बहुत बीमारियों को दूर कर सकते है|

लेकिन सबसे पहले आपसे गुज़ारिश है कि हमारे ऐसी ही बढ़िया बढ़िया जानकारी आगे भी आपको मिलती रहे, आप हमारे पेज Khabar Nazar को फेसबुक पर ज़रूर लाइक करें -> यहाँ क्लिक करें!

नीम में इतने गुण हैं कि ये कई तरह के रोगों के इलाज में काम आता है। यहाँ तक कि इसको भारत में ‘गांव का दवाखाना’ कहा जाता है। यह अपने औषधीय गुणों की वजह से आयुर्वेदिक मेडिसिन में पिछले चार हजार सालों से भी ज्यादा समय से इस्तेमाल हो रहा है। नीम को संस्कृत में ‘अरिष्ट’ भी कहा जाता है, जिसका मतलब होता है, ‘श्रेष्ठ, पूर्ण और कभी खराब न होने वाला।’

नीम के फायदे-

वजन कम करने में सहायक-

अगर आप वजन कम करना चाहते है, तो रोज नीम का जूस पीना शुरू कर दीजिये| इससे शरीर का मेटापोलिस्म बढेगा जिससे खाना फैट में नहीं बदलेगा और आपका वजन कम होने लगेगा|

बैक्टीरिया से लड़ता नीम-

दुनिया बैक्टीरिया से भरी पड़ी है। हमारा शरीर बैक्टीरिया से भरा हुआ है। एक सामान्य आकार के शरीर में लगभग दस खरब कोशिकाएँ होती हैं और सौ खरब से भी ज्यादा बैक्टीरिया होते हैं। आप एक हैं, तो वे दस हैं। आपके भीतर इतने सारे जीव हैं कि आप कल्पना भी नहीं कर सकते। इनमें से ज्यादातर बैक्टीरिया हमारे लिए फायदेमंद होते हैं। इनके बिना हम जिंदा नहीं रह सकते, लेकिन कुछ ऐसे भी होते हैं, जो हमारे लिए मुसीबत खड़ी कर सकते हैं। अगर आप नीम का सेवन करते हैं, तो वह हानिकारक बैक्टीरिया को आपकी आंतों में ही नष्ट कर देता है।

ब्लड शुगर कंट्रोल करें-

नीम में मौजूद तत्व ब्लड में मौजूद शुगर को कंट्रोल करता है| डायबटीज वालों के लिए ये रामवाण इलाज है| रोजाना नीम लेने से इंसुलीन की मात्रा शरीर में बढती है|

ये भी पढ़े-

इन्फेक्शन से रक्षा करे-

शरीर में कई बार तरह तरह के इन्फेक्शन हो जाते है, जिसके चलते दाद खुजली होने लगती है| फंगस के कारण भी इन्फेक्शन होता है, जिससे बचने के लिए आप नीम के पेस्ट का इस्तेमाल कर सकते है| दाद खुजली में नीम का तेल बहुत अच्छा होता है|

कब्ज दूर करता है नीम का सेवन-

नीम का सेवन करने से गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट में जलन और सूजन की समस्या उत्पन्न नहीं होती है जो आपको अल्सर और कब्ज, मरोड़ और सूजन जैसी आंत की बीमारियों से दूर रखता है। इसके अलावा यह पेट के अच्छे बैक्टीरिया को खत्म करने वाले संक्रमण से पेट की रक्षा करता है।

फोड़े और दूसरे जख्मों पर लगाने के लिए-

कई बार ऐसा होता है कि खून साफ न होने की वजह से समय-समय पर फोड़े हो जाते हैं. ऐसे में नीम की पत्ती को पीसकर प्रभावित जगह पर लगाने से फायदा होगा. साथ ही इसके पानी से चेहरा साफ करने पर मुंहासे नहीं होते हैं.

दांतों के लिए-

कुछ वक्त पहले तक नीम की दातुन, ब्रश की तुलना में ज्यादा लोकप्रिय थी. एक ओर जहां दांतों और मसूड़ों की देखभाल के लिए हम तरह-तरह के महंगे टूथपेस्ट इस्तेमाल करते हैं वहीं नीम की दातुन अपने आप में पर्याप्त होती है. नीम की दातुन पायरिया की रोकथाम में भी कारगर होती है.

ये भी पढ़े-

मालिश-

सिरदर्द, दांत दर्द, हाथ-पैर दर्द और सीने में दर्द की समस्या होने पर नीमके तेल की मालिश से काफी लाभ मिलता है। इसके फल का उपयोग कफ और कृमि‍नाशक के रूप में किया जाता है।

पेट से जुड़ी परेशानी दूर करे-पेट में जलन, अल्सर, गैस इन सारी परेशानी को नीम का पानी पीकर दूर किया जा सकता है| यूरिन इन्फेक्शन होने पर नीम की पत्तियों को खाली पेट चबाना चाइये, जल्द आराम मिलेगा|

नीम के इतने सारे फायदे है इसे आप आसानी से अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में शामिल कर सकते है| इसे उपयोग में लाने से आपको ढेरों बीमारियों से राहत मिलेगी, जिसके लिए अभी तक आप डॉक्टरों के चक्कर लगाया करते थे| अगर आप आजीवन स्वस्थ रहना चाहते है तो नीम का रस रोजाना सुबह पीना शुरू कर दें, सारी बीमारियों से यह आपको बचा के रखेगा|

त्वचा की सभी समस्याओ से बचाये-

नीम की पत्तियों का सेवन करने से या नीम के पत्तो का पानी उबाल कर पीने से भी तवचा के रोग ठीक हो जाते है.

 

हम चाहते हैं कि हर भारतीय अंग्रेजी दवाओं की बजाय घरेलु नुस्खों और आयुर्वेद को ज्यादा अपनाये.

अगर आपको इससे कोई फायदा लगे तो इसे शेयर करके औरों को भी बताएं.

हमें सहयोग देने के लिए हमारे फेसबुक (Facebook) पेज – Khabar Nazar पर Like करना न भूलें.

धातु रोग, मर्दाना कमजोरी, देर तक नहीं टिकना, 1 मिंट में निकल जाने की समस्या, शुक्राणु के पतलेपन की आयुर्वेदिक उपचार डॉ नुस्खे हॉर्स पावर किट ऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें https://waapp.me/wa/tSQUZRpC या whats-app 742-885-8589 करें!

Leave a Reply