सिर्फ 4 दिन पीना है किशमिश का पानी – किडनी और लीवर हो जायेंगे तंदरुस्त – ज़रूर पढ़िए और शेयर कीजिये

किशमिश खाने में तो बेहद स्वाद होती ही है, साथ ही दुसरे सूखे मेवे जैसे काजू बादाम इत्यादि की तरह ही गुणों से भी भरी हुई है.

आज हम आपको किशमिश के फायदों के बारे में ही बता रहे हैं.

लेकिन सबसे पहले हमारे फेसबुक पेज – Khabar Nazar को ज़रूर Like करें ताकि आपको नियमित updates मिलते रहें.

आइये जानते हैं इसके बेमिसाल फायदों के बारे में : –

इस्तेमाल का तरीका

आम तौर पर हम सभी किशमिश का इस्तेमाल खीर में डाल कर या फिर सीधे ड्राई फ्रूट्स के तौर पर खा कर करते हैं.

लेकिन इसे और भी ज्यादा फायदेमंद बनाने के लिए इसका इस्तेमाल इस तरीके से भी कर सकते हैं.

इसके लिए आपको ये 2 चीज़ें चाहिए:-

  • साफ़ धुल हुई किशमिश – 150 ग्राम
  • उबला हुआ पीने का पानी – एक कप

वैसे तो इससे आसान कोई तरीका नहीं हो सकता. आपको ये 150 ग्राम किशमिश उबले हुए पानी में भिगो कर रात भर के लिए रख देनी है.

फिर अगली सुबह उठते ही ये पानी बासी मुह ही पी लेना है और साथ ही किशमिश चबा चबा कर खा लेनी है. किशमिश का स्वाद थोडा बदला हुआ ज़रूर मिलेगा. लेकिन फिर भी खा लिए.

ध्यान दें कि अगर आप ताम्बे के बर्तन में रखा पानी पीते हैं तो ये किशमिश जितने दिन खाएं उतने दिन ताम्बे के बर्तन में रखा पानी न पियें.

(अगर 7 दिन ताम्बे के बर्तन में रखा पानी पी लिया तो इतने फायदे होंगे कि रोज़ पीना शुरू कर दोगे! पढ़ें और शेयर करें!)

अपनी पसंद के मुताबिक चाहें तो किशमिश के इस पानी को छान कर हल्का गरम करके भी पी सकते हैं.

अब जानिये इस फायदे : –

इसके फायदे की लम्बी लिस्ट पढ़ कर आप हैरान हो जायेंगे और आज से ही खाना शुरू कर देंगे : –

पेट के लिए

किशमिश डूबा हुआ ये पानी पीने से पेट की लगभग सभी समस्याओं में आराम मिलता है.

जैसे कब्ज़, एसिडिटी और गैस आदि में राहत मिलती है. अगर आप पेट की समस्याओं से परेशान हैं तो इस पानी को हल्का सा गरम करके पीना और भी फायदेमंद रहता है.

थकान

थकान का सम्बन्ध ज्यादातर शरीर में कम उर्जा से होता है. किशमिश खाने से शरीर में ऊर्जा का स्तर बढ़ता है और सामान्य रहने वाली थकान कम होती है.

शादीशुदा जीवन

किशमिश का पानी पीने से न केवल अपने साथी के नज़दीक होने की इच्छा में इजाफ़ा होता है बल्कि विवाहित जीवन में अधिक संतोष भी मिलता है.

लगभग एक महीने में  बेहतर परिणाम सामने आते हैं.

लीवर के लिए

ये पानी सुबह खाली पेट पीने से लीवर की कार्यप्रणाली पर अच्छा प्रभाव पड़ता है. यूँ मानिये की लीवर की मेहनत बेहद का हो जाती है जिससे लीवर अच्छे से काम करता है.

किडनी के लिए

लीवर और किडनी दोनों मिल कर ही काम करते हैं. ऐसे में जब किशमिश का पानी खाली पेट पीने से लीवर ठीक रहता है तो किडनी भी अच्छे से काम करती है और स्वस्थ रहती है.

पाचन तंत्र

जब पेट, लीवर और किडनी ठीक रहते हैं तो ज़ाहिर सी बात है कि पाचन तंत्र सुचारू रूप से काम करता है.

ऐसे में भोजन ठीक से पचता है और आगे भी कोई समस्या आने की संभावना कम रहती है.

ये भी पढ़िए : –

जानलेवा डेंगू का है ये इलाज – डॉक्टर भी देते हैं इसकी सलाह – पढ़िए और शेयर कीजिये

पेट की गैस से छुटकारा पाने का सबसे आसान घरेलु उपाय

51 हमेशा काम आने वाले अचूक नुस्खे – आसान और घरेलु

शहद और लहसुन – सिर्फ 7 दिन खाएं खाली पेट और 7 कमाल के फायदे

ध्यान दें – किशमिश केवल देसी ही इस्तेमाल करें जो कि गहरे रंग की हो.

आकर्षक दिखने वाली चमकीली किशमिश में केमिकल मिला होता है. उसके इस्तेमाल का कोई फायदा नहीं.

डायबिटीज के मरीज इसका इस्तेमाल न करें.

अपने दोस्तों से शेयर कीजिये.

हम चाहते हैं कि हर भारतीय अंग्रेजी दवाओं की बजाय घरेलु नुस्खों और आयुर्वेद को ज्यादा अपनाये.

यहाँ बताये गये नुस्खों से किसी बीमारी को ठीक करने का पक्का दावा नहीं किया गया है.

अलग अलग बन्दों को अपने शरीर के हिसाब से फायदे या नुक्सान होने की सम्भावना रहती है.

डॉक्टर की सलाह का कोई विकल्प नहीं है.

हमें सहयोग देने के लिए हमारे फेसबुक (Facebook) पेज – Khabar Nazar पर Like करना ना भूले.

बिना कोई दुष्प्रभाव के साथ सुरक्षित आयुर्वेदिक धातु रोग, मर्दाना कमजोरी, देर तक नहीं टिकना 1 मिंट में निकल जाने की समस्या, शुक्राणु के पतलेपन की आयुर्वेदिक उपचार डॉ नुस्खे हॉर्स पावर किट ऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें https://waapp.me/wa/LYyy6LN3 Whats_app 7455-896433 करें!

Satya Sharma

मैं अंग्रेजी दवाओं के मुकाबले घरेलु नुस्खों, आयुर्वेद और देसी इलाज को ज्यादा महत्चपूर्ण और कारगर मानती हूँ. सही खान-पान से और नियमित दिनचर्या से वैसे ही बीमारियों से बचा जा सकता है. अंग्रेजी दवाओं के दुष्प्रभाव से बचाने और भारतीय चिकित्सा पद्दति को बढ़ावा देने के लिए मेरी वेबसाइट से जुड़िये और अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बताइए.

Leave a Reply