fbpx

शहद में डूबा हुआ लहसुन (Honey Garlic) – सिर्फ 7 दिन खाने के 7 फ़ायदे

शहद और लहसुन (Honey Garlic) आम तौर पर हर घर में आसानी से मिल जाते हैं. इनके अपने अपने फायदे हैं जो अलग अलग जगह काम आते हैं.

लेकिन यदि इनको इस विधि द्वारा एक साथ खाया जाये तो इनके फायदे बेमिसाल हैं.

जैसा कि आपको पता ही होगा कि आयुर्वेद में अंग्रेजी दवाओं के मुकाबले बेहद अधिक औषधि उपलब्ध है.

बहुत सी ऐसी बीमारियां है जहाँ अच्छी अच्छी दवाइयां भी कुछ ख़ास असर नहीं दिखा पाती हैं.

जब दवाइयां काम नहीं कर पाती तब घरेलु नुस्खे काम आते हैं.

आज हम आपको एक ऐसा घरेलु नुस्खा बताने जा रहे हैं जिसके एक नहीं अनेक फायदे हैं.

Honey Garlic
Honey Garlic

जो घरेलु नुस्खा आपको आज बताया जा रहा है, इसका इस्तेमाल भी बेहद आसान है.

घरेलु नुस्खों के को साइड इफेक्ट्स भी नहीं होते है. इसलिए आप बिना किसी चिंता के इनका सेवन कर सकते हैं.

आज हम आपको लहसुन और शहद को साथ खाने के फायदे के बारे में बताएँगे.

आपको करना ये है कि लहसुन कि फली को थोड़ा कूटना होगा.

ध्यान रखिये: –

आपको लहसुन का पेस्ट नहीं बनाना केवल उसे हल्का सा दबा लेना है जिससे शहद अंदर तक जा सके.

आइये जानते हैं इसके फायदे : –

इस घरेलु नुस्खे के इतने फायदे हैं की इसका असर देखकर आप हैरान रह जायेंगे. अगर हम सात दिन खाली पेट शहद में डूबा हुआ लहसुन खायेंगे तो यह दवा के रूप में काम करेगा.

Honey Garlic
शहद में डूबा हुआ लहसुन.

1. सर्दी-जुकाम में सहायक :-

शहद में डूबा लहसुन खाने से सर्दी-जुकाम की समस्या ख़त्म हो जाती हैं. इसको खाने से सर्दी-जुखाम के साथ ही साइनस की तकलीफ को कम कम करने में भी फायदा मिलता हैं. लहसुन शरीर की गर्मी को बढ़ाता है और बीमारियों को दूर रखता है.

2. हार्ट अटैक और फेट गलाए :-

शहद और लहसुन रोज़ खाने से दिल के मरीजों को बेहद फायदा होता है. इससे दिल की धमनियों में से फैट पिघल जाता है और हार्ट अटैक का खतरा भी कम हो जाता है.

3. प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए :-

यदि आप रोज़ शहद के साथ लहसुन खाएंगे, तो इससे आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहद बढ़ जाएगी और आप जल्दी बीमार नहीं पड़ेंगे.

4. गले के इंफेक्शजन में सहायक :-

शहद में डूबा हुआ लहसुन गले के इंफेक्शन में लाभदायक है. इसको खाने से गले का संक्रमण दूर होता है. क्योंकि इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी होता हैं, जो गले की खराश और सूजन को कम करता है.

Honey Garlic
Honey Garlic

5. डायरिया में सहायक :-

शहद में डूबा लहसुन डायरिया में बहुत मददगार साबित होता हैं.

अगर किसी को या फिर बच्‍चों को बार-बार डायरिया हो जाता है, तो उन्‍हें ये मिश्रण खिलाएं.

इससे उनका पाचन तंत्र दुरुस्‍त होने के साथ ही पेट का संक्रमण भी खत्‍म हो जाएगा.

ये भी पढ़ें : हर महिला के काम की हैं ये रसोई टिप्स (Kitchen Tips)

6. डीटॉक्‍स के रूप में काम करता हैं :-

शहद में डूबा हुआ लहसुन एक प्राकृतिक डीटॉक्‍स मिश्रण है, जिसे खाने से शरीर से गंदगी और वेस्‍ट मैटेरियल बाहर निकल जाते हैं.

7. फंगल इंफेक्‍शन में सहायक :-

शहद में डूबा हुआ लहसुन फंगल इंफेक्‍शन से बचाता हैं. फंगल इंफेक्‍शन, शरीर के कई भागों पर हमला करते हैं.

लेकिन एंटीबैक्‍टीरियल गुण होने के कारण, यह बैक्‍टीरिया को खत्‍म कर शरीर को कमजोर होने से बचाता है.

शहद लहसुन (Honey Garlic) के नुकसान : –

इस बात का ध्यान रखना हैं कि ज्यादा लहसुन का उपयोग हानिकारक हो सकता है.

इसलिए एक या दो कली ही खानी हैं, उससे ज्यादा नहीं.

अगर आपको यह जानकारी पसंद आई है तो हमें हमारे फेसबुक (Facebook) पेज – Khabar Nazar पर Like करना न भूलें.

साथ ही अपने दोस्तों से शेयर (Share) कर अच्छी बात को ज्यादा लोगों तक पहुचाएं.

 

आर्डर करने के लिए लिंक पर जायें – http://whatslink.co/weightloss

Weight Loose Kit – बिना जिम, भागदौड़ और डाइटिंग योग के वजन कैसे घटाया जाए जो वापस न बढे, इसकी जानकारी चाहिए!
घर बैठे कूरियर से भारत में कहीं भी किट पाने के लिए इस लिंक पर क्लिक कीजिये – http://whatslink.co/weightloss

Satya Sharma

मैं अंग्रेजी दवाओं के मुकाबले घरेलु नुस्खों, आयुर्वेद और देसी इलाज को ज्यादा महत्चपूर्ण और कारगर मानती हूँ. सही खान-पान से और नियमित दिनचर्या से वैसे ही बीमारियों से बचा जा सकता है. अंग्रेजी दवाओं के दुष्प्रभाव से बचाने और भारतीय चिकित्सा पद्दति को बढ़ावा देने के लिए मेरी वेबसाइट से जुड़िये और अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बताइए.

Leave a Reply