fbpx

बुढ़ापे तक रहना है जवान तो मेथीदाना खाना शुरू कर दीजिये

बढती उम्र के साथ शरीर में कईं बीमारियाँ घर करने लगती हैं. लेकिन सही खान पान और जीवन शैली से इससे रोका नहीं तो कम से कम इसकी रफ़्तार को धीमा किया जा सकता है. अगर आप भी समय से पहले ही बुढ़ापे में कदम रखने लगे हैं आगे पढ़ते रहिए!

आज हम बता रहे हैं मेथीदाना के फायदे जो आपको बढती उम्र के प्रभावों से बचने में मदद करता है : –

त्वचा के लिए : –

उम्र बढ़ने पर त्वचा में लचीलापन कम होने लगता है जिससे खाल ढीली पड़ कर लटकने लगती है. यही फिर झुरियां बन जाती हैं. साथ ही रंगत भी बुझी बुझी सी हो जाती है. ऐसे में मेथीदाना और मूंग दाल को पीस कर थोड़ी हल्दी और मलाई मिला कर चेहरे पर लगायें. करीबन 20 मिनट बाद ठन्डे पानी से धो लें. हर दुसरे तीसरे दिन ऐसा करें. सिर्फ 2 महीने के समय में ही त्वचा फिर से जवां जवां दिखने लगेगी.

पाचन क्रिया : –

बुढ़ापे में खाना पचाने में भी दिक्कत होने लगती है. क्योंकि लीवर और आंते अपना काम ठीक से नहीं कर पाती. ऐसे में खाने पीने की चीज़ों पर तो ध्यान देना ज़रूरी है ही, साथ ही अगर मेथी दाने को छाछ यानि लस्सी में मिला कर पिया जाये तो पाचन तंत्र में नयी जान आ जाती है. ऐसा तो नहीं है कि इससे पाचन तंत्र की साड़ी बीमारिया एक झटके में ठीक हो जाएंगी, लेकिन अगर पहले से ही इसका सेवन करते हैं तो समस्या आएगी ही नहीं ये तय है.

ये भी पढ़े –

बालों की समस्या : –

उम्र के साथ बाल गिरना-झाड़ना आम बात है. लेकिन समय से पहले गिरते-झड़ते बाल आपको न सिर्फ बुढा दिखाते हैं, बल्कि आपके आत्म-विश्वास पर भी बुरा असर डालते हैं. मेथी ऐसे में कारगर उपाय है. मेथीदाना को पीस कर दही में मिला कर सर में हलके हाथों से मसाज करें. इससे बालों की जड़ों में पकड़ मजबूत होगी, डैंड्रफ नहीं होगा और बाल गिरने बंद होंगे. ये भी है कि ये नुस्खा तब करना है जब सर पर बाल हों. गंजापन होने के बाद ये उतना असरदार नहीं है.

मधुमेह यानि शुगर से बचाव : –

बुढ़ापे में जाते जाते 45% लोगों को शुगर यानी मधुमेह अपनी गिरफ्त में ले लेता है. शुगर आपके सामान्य जनजीवन को प्रभावित करता है. लेकिन समय रहते बचाव किया जाये तो ज्यादा बेहतर है. मेथिदाने पाउडर का यदि रोजाना सुबह खली पेट सेवन किया जाये तो ये पैंक्रियास की प्रक्रिया को दुरुस्त करके कार्बोहाइड्रेट्स और ग्लूकोस को सही पचाने में मदद करता है जिससे शरीर में शुगर की समस्या होने का डर कम रहता है. शुगर के मरीज भी इसका सेवन करके फायदा उठा सकते हैं.

ये भी पढ़े –

जोड़ों का दर्द : –

उम्र के साथ अगर कोई दर्द सबसे पहले आता है तो वो है – जोड़ों का दर्द. लेकिन इसमें भी मेथी मददगार है. नियमित हलके व्यायाम और इसके हरे पत्तों को कुछ देर पानी में उबाल कर पत्ते चबा चबा कर खाएं और पानी भी पी लें. कड़वा तो बहोत लगेगा लेकिन उतना ही जोड़ों के लिए फायदेमंद भी है.

पीठ और कमर दर्द : –

शरीर के विभिन्न अंगों में दर्द भी उम्र कि ढलती लौ की निशानी है. इससे बचिए. अपने शरीर को फुर्तीला बनाये रखिये और बुढ़ापे से दूरी बनाये रखिये. अब इसमें मेथी कैसे मदद करेगी? जैसे मेथी जोड़ों के दर्द में मदद करती है वैसे ही ये पूरे शरीर के दर्द में असरदार है. मेथी मसल्स को लचीला बनाने में सहायक है जिससे दर्द नहीं रहता.

मोटापा : –

शोध में पाया गया है कि भारतीय उम्र बढ़ने के साथ सबसे अधिक मोटापे और शुगर का शिकार होने लगे हैं. यह आंकड़ा दिन प्रति दिन बढ़ने लगा है. ऐसे में सही खानपान और व्यायाम के साथ अगर मेथी दाना का नियमित सेवन किया जाता है तो बाकी फायदों के साथ वजन घटने में भी खुद-ब-खुद कम आता है. मेथी दाना से लीवर बेहतर काम करेगा. और लीवर शरीर में फैट जमा नहीं होने देगा. नतीजा – मोटापा से छुटकारा और वजन पर नियंत्रण.

वैवाहिक सुख : –

बुढ़ापे का एक बुरा प्रभाव वैवाहिक जीवन पर भी पड़ता है. मेथी दाना के सेवन से शरीर में भीतरी उर्जा में वृद्धि महसूस करते हैं और संतुष्ट सुखी वैवाहिक जीवन का आनंद ले सकते हैं.

हम चाहते हैं कि हर भारतीय अंग्रेजी दवाओं की बजाय घरेलु नुस्खों और आयुर्वेद को ज्यादा अपनाये.

अगर आपको इससे कोई फायदा लगे तो इसे शेयर करके औरों को भी बताएं.

जोड़ों का दर्द, कमर दर्द, कंधे का दर्द, sciatica की आयुर्वेदिक उपचार किट पाने के लिए Whatsapp लिंक👍 पर क्लिक करें https://waapp.me/wa/V9xEGSe1

हमें सहयोग देने के लिए हमारे फेसबुक (Facebook) पेज – Khabar Nazar पर Like करना ना भूले!

Satya Sharma

मैं अंग्रेजी दवाओं के मुकाबले घरेलु नुस्खों, आयुर्वेद और देसी इलाज को ज्यादा महत्चपूर्ण और कारगर मानती हूँ. सही खान-पान से और नियमित दिनचर्या से वैसे ही बीमारियों से बचा जा सकता है. अंग्रेजी दवाओं के दुष्प्रभाव से बचाने और भारतीय चिकित्सा पद्दति को बढ़ावा देने के लिए मेरी वेबसाइट से जुड़िये और अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बताइए.

One thought on “बुढ़ापे तक रहना है जवान तो मेथीदाना खाना शुरू कर दीजिये

Leave a Reply