fbpx

वजन कम करना चाहते है तो बस एक गिलास इस पानी का प्रयोग करे.

जानिए डिटॉक्स वाटर के फायदे, डिटॉक्स वाटर बनाने की सामग्री, डिटॉक्स वाटर बनाने की विधि, डिटॉक्स वाटर कैसे बनाये,Detox water Ke Fayde, डिटॉक्स वाटर फॉर वेट लॉस इन हिंदी, डिटॉक्स वाटर रेसिपी इन हिंदी, हाउ तो मेक डिटॉक्स वाटर इन हिंदी, बॉडी को डिटॉक्स कैसे करें, detox पानी लाभ, डिटॉक्स वाटर रेसिपी के बारे में।

डिटॉक्स वाटर का महत्व गर्मी के मौसम में और बढ़ जाता है क्योंकि आपको इस मौसम में हाइड्रेट रहने की जरूरत होती है। पानी विषाक्‍त पदार्थों को दूर करने, चयापचय को बढ़ावा देने, वजन घटाने, पाचन में सुधार, और आपकी त्वचा को स्‍वस्‍थ्‍य (healthy skin) रखने में मदद कर सकता है। आप पानी के साथ अन्य पोषक तत्वों को मिला सकते हैं और इसे अधिक पोषक बना सकते हैं। आज आप इस लेख में हम आपको डिटॉक्स वाटर से होने वाले फायदे और उन्हें तैयार करने की विधि के बारे में।

डिटॉक्स वाटर क्या होता है – What is Detox Water in Hindi

डिटॉक्स वाटर क्या होता है - What is Detox Water in Hindi

Detox Water का काम आपके शरीर को detoxify करना होता है। टॉक्सिक पदार्थ हमारे शरीर के लिए हानिकारक होते हैं। हमारी खाने-पीने, सोने और जागने की आदतों से हमारे शरीर में टॉक्सिक पदार्थ बनते हैं और इन्हें शरीर से बाहर निकालना बहुत जरूरी होता है इसके लिए आप अपनी body को डिटॉक्स वाटर से साफ कर सकते है। लेकिन इसके लिए आपको इस बारे में जानकारी होनी चाहिए कि किस water में क्या होता है और डिटॉक्स वाटर के फायदे क्या है। इसलिए आज हम आपको अलग-अलग  तरह के डिटॉक्स वाटर के बारे में बताने जा रहे हैं इन्हें जानने के बाद आप अपनी जरूरत के हिसाब से डाइट में  शामिल कर सकते हैं।

वजन कम करने के लिए सेब और दालचीनी का डिटॉक्स वाटर – Apple Cinnamon Infused Water in Hindi

वजन कम करने के लिए सेब और दालचीनी का डिटॉक्स वाटर – Apple Cinnamon Infused Water in Hindi

आप साधारण पानी में दालचीनी (cinnamon) और सेब को मिला कर इसे नया रूप दे सकते हैं जो आपको सेव और दालचीनी के पोषक तत्व उपलब्‍ध करा सकता है। इसके लिए आपको बस इतना करना है।

डिटॉक्स वाटर बनाने की सामग्री

  • एक चौथाई सेब,
  • 2 इंच दालचीनी का तुकड़ा,
  • 1लीटर पानी

डिटॉक्स वाटर बनाने की विधि

  • रात भर 1 लीटर पानी में दालचीनी के तुकड़े डाल कर रखें।
  • सुबह सेब को पतले पतले काट कर दालचीनी वाले पानी में डालें और इसे 20 मिनिट तक रहने दें।

डिटॉक्स वाटर के फायदे – Detox water Ke Fayde in Hindi

सेब फाइटोन्‍यूएंट्स (phytonutrients) के स्‍तर को कम करने के साथ कैंसर, हृदय रोग और अस्‍थमा से लड़ने में मदद करते हैं। दालचीनी में वजन घटाने के साथ हीएंटीआक्‍सीडेंट, एंटीइंफ्लामेंट्री, और एंटीबैक्‍टीरियल गुण होते हैं जो कोलेस्‍ट्रॉल को भी कम करते हैं और कार्डियोवैस्‍कुलर बीमारियों (cardiovascular diseases) के खतरे को कम करते हैं।

 

डिटॉक्स वाटर बनाने के लिए संतरा और अदरक –

डिटॉक्स वाटर बनाने के लिए संतरा और अदरक – Orange Ginger Detox Water in Hindi

पानी के साथ अदरक और संतरेंको मिलाकर आप इसे और अधिक पौष्टिक बना सकते हैं। आइऐ जाने कैंसे

डिटॉक्स वाटर बनाने की सामग्री

  • ½ संतरा
  • 1 इंच अदरक
  • 1 लीटर पानी

डिटॉक्स वाटर बनाने की विधि

  • ओखली या मूसल की सहायता से अदरक को पीस लें।
  • छिलके के साथ संतरे को बीच से पतले पतले काट लें।
  • इन दोनों को 1 लीटर पानी में डालें।
  • इसे फ्रिज में 2 घंटे तक रखें।

डिटॉक्स वाटर के फायदे –

संतरे एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन सी में समृद्ध हैं जो डीएनए क्षति को रोकते हैं और दिल की रक्षा करते हैं। अदरक सूजन और मांसपेशी दर्द को कम करने में मदद करता है। यह कार्डियोवैस्‍कुलर बीमारियों और मधुमेह को रोकता है, और गैस्‍ट्रोइंटेस्‍टाइनल स्‍वास्‍थ्‍य (gastrointestinal Health) को बढ़ावा देता है।

डिटॉक्स वाटर रेसिपी पानी में काले अंगूर और नींबू को मिलाएं –

पानी मे नींबू का उपयोग हम शीतल पेय के रूप में करते हैं लेकिन यदि इसमें काले अंगूर को भी शामिल कर लिया जाए तो यह हमारे लिए और भी फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए आपको करना है

डिटॉक्स वाटर बनाने की सामग्री

  • 10-15 काले अंगूर
  • 1 नींबू
  • 1 लीटर पानी

डिटॉक्स वाटर तैयार करने की विधि

  • नींबू को भी छिल्‍के सहित और अंगूरों को बीच से पतला पतला काट लें
  • एक लीटर पानी से भरे जार में दोनों को डाले
  • इन दोनों को पानी में 20 मिनिट तक रहने दें
  • अब आप इस ड्रिंक का उपयोग कर सकते हैं।

डिटॉक्स वाटर के फायदे – Detox water Ke Fayde in Hindi

काले अंगूर कैंसर कोशिका प्रसार, निचले कोलेस्‍ट्रोल और प्‍लेटलेट एकत्रीकरण को रोकता है। लाइम्‍स विटामिन सी का एक बड़ा स्रोत है। वे गठिया से छुटकारा पाने, पाचन को उत्‍तेजित करने, बालों को गिरने से रोकने, सर्दी और खांसी (cold and cough) से लड़ने में मदद करता है।

ये भी पढ़े-

खरबूजा, जीरा और पुदीना से बनायें डिटॉक्स वाटर –

डिटॉक्स वाटर बनाने की सामग्री

  • खरबूजे के छोटे छोटे 15 तुकड़ें
  • 2 चम्‍मच जीरा
  • एक मुठ्ठी पुदीने की पत्तियां
  • 1 लीटर पानी

डिटॉक्स वाटर बनाने की विधि

  • 1 लीटर पानी में जीरे के बीजों को डालकर रात भर रखें
  • सुबह उस पानी में खरबूज के तुकड़े और पुदीना की पत्तियां डालें
  • इसे 10 मिनिट तक रहने दें।

डिटॉक्स वाटर के फायदे – Detox water Ke Fayde in Hindi

खरबूज एंटीआक्‍सीडेंट से भरे हुए हैं जो हानिकारक आक्‍सीजन कणों (harmful oxygen radicals) को कम करने, आंखों के स्वास्थ्य का समर्थन करने और कैंसर कोशिका के प्रसार को रोकने में मदद करते हैं।

जीरा पाचन शक्ति को बढ़ाते हैं, सर्दी और खांसी से रक्षा करते हैं और मासिक धर्म चक्र (menstrual cycle) को उत्‍तेजित करते हैं।

पुदीना में शीतलन प्रभाव होता है, वे अच्‍छे पाचन में सहायक होते हैं। पोधीने में एंटीट्यूमर, एंटीमाइक्रोबायल (antimicrobial) और एंटीआक्‍सीडेंट गुण होते हैं।

गुलाव की पंखुडिया और सौंफ का डिटॉक्स वाटर –

इस ड्रिंक को बनाने के लिए आपको चाहिए

डिटॉक्स वाटर बनाने की सामग्री

  • गुलाब की 20 पंखुडियां
  • 2 चम्‍मच सौंफ बीज
  • 1 लीटर पानी

डिटॉक्स वाटर बनाने की विधि

  • पानी के 1 लीटर जार में गुलाब पंखुडियां और सौंफ के बीजों को डालें ।
  • रेफ्रिजरेटर में चार घंटे के लिए रखें ।

डिटॉक्स वाटर के फायदे –

गुलाब पंखुडियां तनाव से छुटकारा पाने, अपने मनोदशा को ऊपर उठाने, पाचन समस्‍याओं का इलाज करने और आंत्र आंदोलन (bowel movement) में सुधार करने में मदद करते है।

सौंफ के बीज पाचन में सुधार करने, डीएनए अत्‍परिवर्तन को रोकने में मदद करते हैं, और एंटी-इंफ्लामैट्री, कार्डियोप्रोटेक्‍टीव (cardioprotective), हेपेट्रोप्रोक्‍टी और एंटी-कैंसर गुण होते हैं जों आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं।

डिटॉक्स वाटर फॉर वेट लॉस कीवी और नारियल पानी –

कीवीऔर नारियल पानी का मिश्रित पेय (mixed drink) आपके लिए बहुत ही फायदेमंद हो सकता है। आइऐ जाने कैसे

डिटॉक्स वाटर बनाने के लिए सामग्री

  • 7 कीवी स्‍लाइसें
  • 2 कप नारियल पानी

डिटॉक्स वाटर बनाने की विधि

  • दो कप नारियल पानी बाले बर्तन में कीवी स्‍लाइसों को मिलाएं।
  • इसे रेफ्रिजरेटर में 10 मिनिट के लिए रखें

डिटॉक्स वाटर के फायदे –

कीवी फल प्‍लेटलेट एग्रीगेशन (platelet aggregation)और ट्राइग्लिसराइड के स्‍तर को कम करने और अच्‍छे कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर में वृद्धि करने में मदद करते है।

नारियल का पानी प्राकृतिक इलक्‍ट्रोलाइट्स (natural electrolytes) से भरा हुआ है और डिहाइड्रेशन के सबसे अच्‍छा प्राकृतिक पेय है।

अंगूर और संतरे से बनायें डिटॉक्स वाटर –

डिटॉक्स वाटर बनाने की सामग्री :

  • 15 अंगूर
  • संतरे के 15 स्‍लाइसें
  • 1 लीटर पानी

हाउ तो मेक डिटॉक्स वाटर इन हिंदी :

  • अंगूर को आधा काट लें
  • 1 लीटर पानी वाले जार में कटे हुए अंगूर और संतरे के स्‍लाइस को मिलाएं
  • इसे आधा घंटे तक रखे रहने दें

detox पानी के लाभ:

अंगूर कैंसर कोशिका प्रसार, लो कोलेस्‍ट्रोल और प्लेटलेट एकत्रीकरण को रोकता है।

संतरे एंटीआक्‍सीडेंट और विटामिन सी में समृद्ध हैं जो डीएनए क्षति को रोकते है और दिल की रक्षा करते हैं।

इन डिटॉक्स वाटर (Detox water) व्यंजनों को पोषक तत्वों से समृद्ध बनाने, और विभिन्न बीमारियों और लक्षणों से लड़ने में आपकी सहायता करने के लिए घर अपर बनाना बहुत ही आसान हैं। इन व्यंजनों को आजमाएं और अपने पानी को स्‍वादपूर्ण और स्‍वस्‍थ्‍य बनाएं। हाइड्रेटेड रहें, जिससे आप अपने शरीर के वजन और स्‍वास्‍थ्‍य समस्याओं में कमी देखेंगे।

ये भी पढ़े-

हम चाहते हैं कि हर भारतीय अंग्रेजी दवाओं की बजाय घरेलु नुस्खों और आयुर्वेद को ज्यादा अपनाये.

अगर आपको इससे कोई फायदा लगे तो इसे शेयर करके औरों को भी बताएं.

हमें सहयोग देने के लिए हमारे Sandhya Gujral पर Like ज़रूर करें!

आर्डर करने के लिए लिंक पर जायें – http://whatslink.co/weightloss

 

Satya Sharma

मैं अंग्रेजी दवाओं के मुकाबले घरेलु नुस्खों, आयुर्वेद और देसी इलाज को ज्यादा महत्चपूर्ण और कारगर मानती हूँ. सही खान-पान से और नियमित दिनचर्या से वैसे ही बीमारियों से बचा जा सकता है. अंग्रेजी दवाओं के दुष्प्रभाव से बचाने और भारतीय चिकित्सा पद्दति को बढ़ावा देने के लिए मेरी वेबसाइट से जुड़िये और अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बताइए.

Leave a Reply