fbpx

जानिए कैसे दलिया (Daliya) खा कर वजन घटाया जाता है – लड़कियां ज़रूर पढ़ें!

लड़कियां अकसर अपने वजन को लेकर चिंता में रहती हैं. बढ़ा हुआ वजन न केवल सेहत बल्कि सौंदर्य को भी कम कर देता है. आज मैं आपको इसी के बारे में बता रही हूँ.

तो अगर आप भी बढ़ते वजन को कम करने की इच्छुक हैं तो अपने खाने में दलिया (Daliya) जोड़ लीजिये. दलिया वैसे तो बहुत पुराने समय से प्रचलित है, लेकिन समय के अनुसार इसका रूप और स्वरुप बदलता रहा है। इससे पहले कि हम आपको यह समझाएं कि दलिया किस तरह से वजन को नियंत्रित करती है, उससे पहले हम यह जान लें कि दलिया क्‍या चीज है।

दलिया को अंग्रेजी में ब्रोकन वीट (Broken Wheat) भी कहते हैं, जो कि गेंहू को दरदरी पीस कर बनाई जाती है। दलिया में उच्‍च मात्रा में फाइबर, प्राटीन और विटामिन बी पाया जाता है।

कुछ लोग वजन कम करने के लिये ओट्स आदि भी खाते हैं। मगर दलिया खाने से आपका पेट लंबे समय तब भरा रहेगा और आपको 2 घंटों तक भूंख भी नहीं लगेगी।

तो चलिये जानते हैं दलिया खा कर कैसे होता है वजन कम?

1. लो कैलोरी

किसी भी खाने की चीज़ में कितनी कैलोरी हैं इसका शरीर के वजन पर सीधा असर पड़ता है. ज्यादा कैलोरी का मतलब वजन बढेगा, और कम तो घटेगा. दलिया में बहुत ही थोड़ी सी कैलोरी पाई जाती है। अगर आप दलिया खाती हैं तो आपको ढेर सारे फाइबर के साथ पोषण भी मिलेगा और आपका वजन भी नहीं बढेगा।

2. उच्‍च फाइबर

चूँकि दलिया (Daliya) में गेहूं के छिलके तो उतारा नहीं जाता बल्कि आटा या मैदा के मुकाबले गेहूं के दाने को छिलके के साथ ही दरदरा पीसा जाता है, इसलिए इसमें फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है. खाने में अगर बहुत सारा फाइबर होता है तो पाचन सही होता है। फाइबर ना तो शक्‍कर में बदलता है और इसलिये यह वेट लॉस में मदद करता है।

3. आराम से हजम होती है

ज्यादा फाइबर होने का फायदा यह है कि दलिया जल्दी नहीं पचेगा. आप सोंचती होंगी कि जो खाना तुरंत हजम हो जाता है वह शरीर का मोटापा बिल्‍कुल नहीं बढाता? मगर ऐसा नहीं होता, जल्‍दी से हजम हो जाने वाले आहार तुरंत-तुरंत भूंख पैदा कर शरीर में शक्‍कर स्‍टोर करते हैं। ऐसे में दलिया (Daliya) देर से पचने वाला आहार है, जिसे खाने के बाद तुरंत भूंख नहीं लगती।

4. उच्‍च प्रोटीन युक्‍त

वजन घटने में जितना फाइबर का हाथ है उतना ही प्रोटीन का भी है. क्योंकि कार्बोहायड्रेट के अभाव में शरीर को उर्जा के लिए प्रोटीन की ज़रूरत ज्यादा पड़ती है. दलिया में उच्‍च प्रोटीन की मात्रा होती है। इसमें मीट की तरह प्रोटीन के साथ वसा नहीं होती। यह सेफ, फैट फ्री है, जिसे आपके भोजन में जरुर शामिल होना चाहिये।

5. पेट भरने वाला

इसमें उच्‍च मात्रा में रेशा होने के नाते, इसे खाते ही पूरा पेट भर जाता है। इसे (Daliya) खाने के बाद आपको 2 घंटों तक भूख नहीं लगेगी। और अगर कुछ खाने का मन नहीं होगा तो शरीर में कम कैलोरीज जाएंगी. इससे शरीर फैट को कार्बोहाइड्रेट्स में बदलना शुरू कर देगा. इससे फैट के साथ साथ वजन भी कम होगा.

ये भी पढ़े-

हम चाहते हैं कि हर भारतीय अंग्रेजी दवाओं की बजाय घरेलु नुस्खों और आयुर्वेद को ज्यादा अपनाये।

अगर आपको इससे कोई फायदा लगे तो इसे शेयर करके औरों को भी बताएं।

हमें सहयोग देने के लिए हमारे Sandhya Gujral पर Like करना न भूलें!

आर्डर करने के लिए लिंक पर जायें – http://whatslink.co/weightloss

Weight Loose Kit – बिना जिम, भागदौड़ और डाइटिंग योग के वजन कैसे घटाया जाए जो वापस न बढे, इसकी जानकारी चाहिए!
घर बैठे कूरियर से भारत में कहीं भी किट पाने के लिए इस लिंक पर क्लिक कीजिये – http://whatslink.co/weightloss

Satya Sharma

मैं अंग्रेजी दवाओं के मुकाबले घरेलु नुस्खों, आयुर्वेद और देसी इलाज को ज्यादा महत्चपूर्ण और कारगर मानती हूँ. सही खान-पान से और नियमित दिनचर्या से वैसे ही बीमारियों से बचा जा सकता है. अंग्रेजी दवाओं के दुष्प्रभाव से बचाने और भारतीय चिकित्सा पद्दति को बढ़ावा देने के लिए मेरी वेबसाइट से जुड़िये और अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बताइए.

Leave a Reply